गरम करके ठंडा छोड़ देते हो… रसिका दुग्गल ने बताया मिर्जापुर में बीना भाभी की इस बात का मतलब

0
गरम करके ठंडा छोड़ देते हो… रसिका दुग्गल ने बताया मिर्जापुर में बीना भाभी की इस बात का मतलब

मिर्जापुर 3 का ऑफिशियल ट्रेलकर आ चुका है। दर्शकों के मन में मिर्जापुर के सारे सीन्स और डायलॉग्स फिर से ताजा हो गए। वेब सीरीज के दोनों पार्ट्स पर कई मीम्स बने थे। इनमें से रसिका दुग्गल यानी बीना त्रिपाठी पर फिल्माया गया डायलॉग ‘गरम करके ठंडा छोड़ देते हो’ भी खूब वायरल हुआ था। अब उनका एक इंटरव्यू सामने आया है जिसमें रसिका दुग्गल ने बताया है कि इस डायलॉग का क्या मतलब था। उन्होंने यह भी कहा कि वह असल जिंदगी में बीना जैसी बोल्ड बनना चाहती हैं।

बताया बीना ने क्यों बोला ये डायलॉग

मिर्जापुर में रसिका दुग्गल का रोल काफी दमदार था। वह लीड कैरेक्टर कालीन भइया की पत्नी बनी हैं। एक इंटीमेट सीन में बीना अपने पति से बोलती हैं, हमेशा गरम करके ठंडा छोड़ देते हो…हॉटरफ्लाई से बातचीत में रसिका दुग्गल ने बताया कि बीना अखंडानंद त्रिपाठी यानी कालीन भैया से आखिर ऐसा क्यों कहती है। रसिका बोलती हैं, ‘तुम मेरी इच्छा पूरी नहीं कर रहे हो’। रसिका बोलती हैं, बीना को जो चाहिए वो नहीं मिल रहा और वह अपनी इच्छा को बता रही है कि मैं चाहती हूं कि ये इच्छा पूरी हो।’

रसिका असल में नहीं हैं बीना जैसी

रसिका दुग्गल को बीना का किरदार काफी पसंद है। उन्होंने कहा, बीना जैसी बॉडी लैंग्वेज हमेशा चाहती थी। मैं बीना त्रिपाठी की तरह नहीं हूं लेकिन हमेशा बनना चाहती थी। वह वही चीजें यूज कर रही है जो हमेशा औरतों के लिए नुकसानदायक रही हैं।

प्लैजर पर बचपन से होनी चाहिए बातें

महिलाओं की प्लैजर पर इतना नेगलेक्ट क्यों किया जाता है? इस सवाल पर रसिका बोलीं, यह ठीक होने में सालों साल लग जाएंगे। ये बातें बचपन में होनी चाहिए। अगर किसी ने बताया नहीं है कि सेक्स, प्लैजर और इच्छाओं के बारे में बात करना ठीक है या आपका शरीर क्या फील कर रहा है तो जर्नी बहुत टफ है। जब मैं बड़ी हो रही थी तब ऐसी बातचीत नहीं होती थी।

बीना बनकर मजा आया

जब इन मुद्दों पर ज्यादा बात करेंगे और लोगों के पास इस पर नॉलेज होगा तब ये बातें सहज होंगी। मुझे अभी भी इस तरह की बात करने में सहजता नहीं है। इसलिए बीना त्रिपाठी का रोल करने में मजा आया है।

Source : www.livehindustan.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.